(PMFBY List) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022: जानें किसान रजिस्ट्रेशन व लाभार्थी सूची

pradhan fasal bima yojana ll pradhan fast food ll bima yojana kya hai ll bima yojana status check ll bima yojana form , प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल को बहुत नुकसान पहुंचता है। जिसकी वजह से किसान को बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाली फसल के नुकसान की वजह से किसानों की आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो जाती है। केंद्र सरकार द्वारा इस समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है।इस योजना के माध्यम से किसानों को किसी भी प्रकार की आपदा के कारण हुए फसल के नुकसान पर बीमा दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत मध्य प्रदेश के किसानों को फसली नुकसान के लिए मुआवजा भी दिया गया दुआ कार्यक्रम में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 49 लाख किसानों के खाते में सिंगल क्लिक के माध्यम से 76 सौ करोड़ रुपया ट्रांसफर किया। पैसा प्रकार के माध्यम से फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को खरीफ सीजन 2020 और रबी सीजन 2021 के फसली छाती का मुआवजा दिया गया।

सरकार के द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने का प्रयास किया जा रहा है

बैतूल जिले के किसानों को फसल बीमा योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा सब के सहयोग से प्रधानमंत्री केंद्र उत्तरी और मुख्यमंत्री द्वारा किसानों की आय को दोगुना किया जा सकता है। ऐसा करने से कृषि विकास दर 20 से 25 परसेंट पड़ जाएगा खाद्यान्न उत्पादन के मामले में मध्य प्रदेश सबसे पहले नंबर पर आ जाएगा।

रबी सीजन 2020-21 के अंतर्गत कितने किसानों ने फसल का बीमा कराया था

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत रबी सीजन 2020 – 21के दौरान लगभग 20, 07, 830 किसानों ने कुल जमीन 5229.40 हजार हेक्टेयर का फसली बीमा कराया गया था। इसमें 45,33,251 कर्जा धारी किसान तथा 14023 अन्य किसान शामिल हुए थे। इस योजना के लिए किसानों ने30,979,06 लाख प्रीमियम दिया था और राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार के द्वारा1,08,752.81 लाख और 1, 08, 752.81 लिक का प्रीमियम दिया गया।

खरीफ सीजन 2020 के अंतर्गत कितने किसानों ने फसल बीमा कराया था

खरीफ सीजन के दौरान फसल बीमा कराने वाले किसानों की संख्या 24, 66, 397 था। खरीफ सीजन के दौरान योजना के अंतर्गत6,433.02 हजार हेक्टेयर जमीन का बीमा करवाया गया था किसानों के द्वारा इस बीमा के लिए किसानों ने50,818.58 का प्रीमियम और केंद्र सरकार राज्य सरकार के द्वारा1,88,937.40 लाख और1,88,937.40 लाख का प्रीमियम दिया गया

पीएम फसल बीमा योजना का शुरुआत 31 जनवरी 2016 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया था। इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदा जैसे ओलावृष्टि बाड़ी सूखा बाढ़ इत्यादि से फसल का नुकसान होने पर फसली बीमा के रूप में योजना चलाया गया। जिससे किसानों के फसल को अगर नुकसान होता है। तो सरकार के द्वारा उनके फसल के नुकसान को बीमा के रूप में दिया जाएगा। और किसानों को किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़ेगा।

किन मामलों में किसान बीमा फसल योजना के अंतर्गत क्लेम कर सकता है

ओलावृष्टि, भूस्खलन, अतिवृष्टि, बादल फटना, जैसे मामलों में किसान इस योजना के तहत क्लेम कर सकता है।
इसलिए किसानों को अपनी फसल की हुई क्षति के संबंध में संबंधित बीमा कंपनी, राज्य सरकार ,वित्तीय संस्थान को देनी होती है।
फसल छुट्टी का मूल्यांकन एक संयुक्त समिति के द्वारा किया जाता है जिसमें राज्य सरकार के प्रतिनिधि एवं संबंधित बीमा कंपनी के प्रतिनिधि मौजूद होते हैं।

पीएम फसल बीमा योजना के अंतर्गत यह सभी बदलाव हो चुके हैं

1. इस स्कीम को सभी किसानों के द्वारा स्वैच्छिक बना दिया गया है किसकी हम संगठन लगातार इसकी मांग कर रहे थे अब केसीसी से पैसा नहीं कटेगा।

2. प्रीमियम में किसानों के अंशदान में कोई परिवर्तन नहीं किया गया उनके खड़ीफ फसलों पर 2 फीसदी, रवि फसलों पर 1.5 फीसदी और बागवानी फसलों पर अधिकतम 5 फ़ीसदी का प्रीमियम देना होगा

3. किसान अपनी पसंद और जरूरत के अनुसार बीमा ले सकते हैं जैसे सूखा या बाद के लिए अलग-अलग या फिर दोनों में से कोई एक का भी बीमा ले सकते हैं।

फसल बीमा योजना में नाम कैसे देखें?

PM Fasal Bima Yojana में ऐसे देखे अपना नाम:
वेबसाइट पर पहुचने के बाद आप Application Status (आवेदन स्थिति) पर क्लिक करे। …
फिर आपको Application Status वाले पेज पर Receipt Number डालना होगा, एवं Captcha Code भरना होगा। …
बटन पर Click करने के बाद आपको Fasal Bima Yojana के अंतर्गत किये हुए क्लेम की जानकारी आपको दिखाई देगी।

फसल बीमा का पैसा कब आएगा?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को जागरूक कर उनकी सहभागिता बढ़ाने के लिए रबी सीजन 2021-22 के प्रथम सप्ताह को फसल बीमा योजना (Crop Insurance scheme) सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा.

फसल बीमा कब मिलेगा 2021 MP?

खरीफ मौसम में कृषकों का बीमा करने एवं प्रीमियम जमा करने की समय-सीमा 1 अप्रैल से 31 जुलाई तक है। अधिसूचित फसल हेतु बीमित राशि राज्य स्तरीय तकनीकी समिति द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये निर्धारित अल्पावधि फसल ऋणमान (स्केल ऑफ फायनेंस) के बराबर लागू होगी, जिसे पृथक से अधिसूचित किया जावेगा। 4.

फसल बीमा योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

किसानों को फसल बीमा कराने के लिए 2 फीसदी प्रीमियम देना होता है, 98 फीसदी राशि केंद्र और राज्य सरकार मिलकर जमा करते हैं. किसान की एक फोटो, आईडी कार्ड, एड्रेस प्रूफ, खेत का खसरा नंबर, खेत में फसल का सबूत. फसल बीमा योजना के तहत किसानों को फसल बोने के दस दिनों के भीतर बीमा कराना होगा.

एमपी में किसानों को बीमा कब मिलेगा?

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ओलावृष्टि (Hailstorm) से फसलों को हुए नुकसान की पूरी भरपाई की जाएगी. राज्य सरकार की ओर से घोषित मुआवजा के साथ ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) का लाभ भी दिया जाएगा. बीमा कंपनी से 25 प्रतिशत क्लेम राशि एडवांस में दिलाई जाएगी. , pradhan fasal bima yojana , pradhan fast food , pradhan fast food , pradhan fast food , pradhan fast food , bima yojana kya hai , bima yojana kya hai , bima yojana kya hai , bima yojana status check , bima yojana status check , bima yojana status check , bima yojana form , bima yojana form , bima yojana form , bima yojana form , pradhan fast food

pradhan fasal bima yojana

✔️ एमपी में किसानों को बीमा कब मिलेगा?

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ओलावृष्टि (Hailstorm) से फसलों को हुए नुकसान की पूरी भरपाई की जाएगी. राज्य सरकार की ओर से घोषित मुआवजा के साथ ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) का लाभ भी दिया जाएगा. बीमा कंपनी से 25 प्रतिशत क्लेम राशि एडवांस में दिलाई जाएगी.

✔️ फसल बीमा योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

किसानों को फसल बीमा कराने के लिए 2 फीसदी प्रीमियम देना होता है, 98 फीसदी राशि केंद्र और राज्य सरकार मिलकर जमा करते हैं. किसान की एक फोटो, आईडी कार्ड, एड्रेस प्रूफ, खेत का खसरा नंबर, खेत में फसल का सबूत. फसल बीमा योजना के तहत किसानों को फसल बोने के दस दिनों के भीतर बीमा कराना होगा.

✔️ फसल बीमा कब मिलेगा 2021 MP?

खरीफ मौसम में कृषकों का बीमा करने एवं प्रीमियम जमा करने की समय-सीमा 1 अप्रैल से 31 जुलाई तक है। अधिसूचित फसल हेतु बीमित राशि राज्य स्तरीय तकनीकी समिति द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये निर्धारित अल्पावधि फसल ऋणमान (स्केल ऑफ फायनेंस) के बराबर लागू होगी, जिसे पृथक से अधिसूचित किया जावेगा। 4.

✔️ फसल बीमा का पैसा कब आएगा?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को जागरूक कर उनकी सहभागिता बढ़ाने के लिए रबी सीजन 2021-22 के प्रथम सप्ताह को फसल बीमा योजना (Crop Insurance scheme) सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा.

✔️ फसल बीमा योजना में नाम कैसे देखें?

PM Fasal Bima Yojana में ऐसे देखे अपना नाम:
वेबसाइट पर पहुचने के बाद आप Application Status (आवेदन स्थिति) पर क्लिक करे। …
फिर आपको Application Status वाले पेज पर Receipt Number डालना होगा, एवं Captcha Code भरना होगा। …
बटन पर Click करने के बाद आपको Fasal Bima Yojana के अंतर्गत किये हुए क्लेम की जानकारी आपको दिखाई देगी।

1 thought on “(PMFBY List) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022: जानें किसान रजिस्ट्रेशन व लाभार्थी सूची”

Leave a Comment